Recent Posts

मेजर ध्यानचंद खेल उत्थान संस्था को वर्ल्ड बुक रिकॉर्ड से किया गया सम्मानित

1 min read

अयोध्या,अवधी खबर (राजू निषाद) ।पिछले वर्ष कोरोना काल में शहीद भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव के शहीद दिवस पर पूरे देश में एक दिन में सर्वाधिक रक्तदान हुए थे, जो विश्व रिकार्ड के साथ वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हुआ है,और उक्त आयोजन में मेजर ध्यानचंद खेल उत्थान समिति एक सहयोगी संस्था थी।

मेजर ध्यानचंद खेल उत्थान संस्था को वर्ल्ड बुक रिकॉर्ड से किया गया सम्मानित

जिसके लिए वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड लंदन की ओर से संस्था को लखनऊ स्थित अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध शोध संस्थान के सभागार में संस्था को मुख्य अतिथि एडीजीपी उत्तर प्रदेश पुलिस विनोद कुमार सिंह द्वारा पार्टिसिपेशन सर्टिफिगेट, मेडल व स्मृतिचिन्ह से सम्मानित किया गया। जिसे संस्था के प्रतिनिधि के रूप में संस्था संरक्षक राजेश चौबे व अध्यक्ष आकाश गुप्त ने संयुक्त रूप से प्राप्त किया।

वही रक्तदान के क्षेत्र में उत्कृट योगदान के लिए अयोध्या जिले में ब्लड मैन के नाम से चर्चित समाजसेवी आकाश गुप्त को निफा द्वारा इंटरनेशनल लाईफ सेवर अवार्ड से प्राप्त हुआ। संस्थाध्यक्ष आकाश गुप्त ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यह सम्मान अयोध्या जनपद के सभी रक्तदाताओं को समर्पित है,और यह अयोध्या जनपद के लिय गौरव की बात है। बताते चले कि मेजर ध्यानचंद खेल उत्थान समिति पिछले पांच साल में हजारों जरूरत मन्दों को निःशुल्क ब्लड मुहैया करा चुका है। और संस्था के द्वारा प्रतिमाह रक्तदान शिविर का आयोजन भी किया जाता है।

जनपद में ब्लड मैन के नाम से चर्चित शीतला प्रसाद गुप्ता (आकाश) दुर्लभ ग्रुप बी निगेटिव के डोनर है,और वे जरूरत पड़ने पर विभिन्न जिलों में जाकर 39 बार ब्लड डोनेट भी कर चुके है और इस कार्य के लिए उन्हें अयोध्या रत्न, छत्रपति शाहू जी महाराज सम्मान, समाज रत्न सम्मान, स्वदेश सम्मान, कोरोना योद्धा सम्मान सहित प्रदेश के अलग अलग हिस्सों से करीब दो दर्जन बार मंच से सम्मानित भी किया जा चुका है।

नेशनल इंटीग्रेटेड फोरम ऑफ आर्टिस्ट्स एंड एक्टिविट्स (निफ) के चेयरमैन प्रितपाल सिंह पन्नू ने बताया कि शहीद भगत सिंह,राजगुरु, सुखदेव के 90 वे पुण्यतिथि पर 23 मार्च को पूरे देश में संस्था द्वारा सहयोगियों की मदद से संवेदना अभियान के अंतर्गत कुल 1476 रक्तदान शिविर आयोजित किए गए। इसमें करीब 1.27 लाख लोगों ने पंजीकरण कराया एवं 97,744 रक्तदानियों ने एक साथ सर्वाधिक रक्तदान का विश्व रिकॉर्ड भी बना था और इस अभियान का शुभारंभ महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर एक संदेश दिया राष्ट्र के नाम दिया नशा नही रक्तदान करें। और इस अभियान के तहत अयोध्या जिले में 105 लोगों ने रक्तदान के लिए पंजीकरण व 78 लोगों ने रक्तदान किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित