एनकाउंटर के डर से 25 हजार के इनामी ने किया सरेंडर

1 min read
Latest News Ambedkar Nagar
Latest News Ambedkar Nagar

अंबेडकरनगर। एनकाउंटर हो जाने के भय से लूट, डकैती व छिनैती आदि मामलों में वांछित यूपी गैंगेस्टर एक्ट के एक आरोपी ने शनिवार को एसपी कार्यालय पहुंचकर आत्मसमर्पण कर दिया। उस पर बीते दिनों जनपद पुलिस ने 25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था। किसी बड़ी कार्रवाई से बचने के लिए वह खुद ही पुलिस कार्यालय पहुंच गया। बताया कि वह चोरी व अन्य असामाजिक कृत्यों को छोड़ चुका है। ऐसे में उसके विरुद्ध कोई कार्रवाई न की जाए। पुलिस ने उससे पूछताछ कर जेल भेज दिया।

एसपी आलोक प्रियदर्शी ने बीते दिनों विभिन्न आपराधिक घटनाओं के अभियुक्त जो इन दिनों जमानत पर रिहा हैं, उन्हें कार्यालय बुलाकर सत्यापन कराया था। सख्त हिदायत दी थी कि यदि उनका आचरण संदिग्ध पाया गया या फिर किसी आपराधिक गतिविधि में संलिप्तता पायी गई तो सख्त कार्रवाई होगी। एसपी की सख्त हिदायत के बाद अभियुक्तों को वापस भेज दिया गया। एसपी ने कहा था कि पुलिस की नजर सब पर है। यदि कोई कानून को हाथ में लेने की कोशिश करेगा तो पुलिस अब सख्ती से पेश आएगी।

अपराधियों को लेकर सरकार के जीरो टालरेंस की नीति को गंभीरता से लागू करने के लिए एसपी लगातार थानाध्यक्षों को निर्देशित भी कर रहे हैं।पुलिस टीम की कार्रवाई भी इन दिनों तेजी से चल रही है। ऐसे में अपराधियों के बीच भय का माहौल है। पुलिस की बढ़ती सख्ती के बीच लंबे समय से फरार चल रहे लूट, छिनैती व चोरी के विभिन्न मामलों में वांछित यूपी गैंगेस्टर एक्ट के अभियुक्त इब्राहिमपुर थाना क्षेत्र के अवसानपुर माझा देवारा निवासी करिया उर्फ रामअजोर ने एसपी आलोक प्रियदर्शी के समक्ष शनिवार को आत्मसमर्पण कर दिया।

करिया उर्फ रामअजोर ने बताया कि उसे अपराधियों के सत्यापन की खबर मिली। उसे भय था कि इसके बाद पुलिस अपराधियों के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई करेगी। इसके चलते वह अब आत्मसर्मपण कर रहा है। बताया कि वह चोरी आदि की घटनाओं को काफी पहले ही छोड़ चुका है। वह भविष्य में कोई आपराधिक कृत्य नही करेगा। उसने एसपी से कोई कार्रवाई न करने की मांग की। बाद में वहां पहुंचे हसंवर थानाध्यक्ष विजय प्रताप तिवारी ने उसे हिरासत में ले लिया। उससे जरूरी पूछताछ कर जेल भेज दिया।

अमित सिंह भीटी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित