जलालपुर से भाजपा और अकबरपुर में बसपा उम्मीदवार ने किया नामांकन

1 min read

अंबेडकरनगर: विधानसभा चुनाव में नामांकन के दूसरे दिन भाजपा और बसपा के दो उम्मीदवारों ने पर्चा दाखिल किया। जलालपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी सुभाष राय ने एक सेट में नामांकन किया।

दोपहर करीब सवा एक बजे कलेक्ट्रेट पहुंचे सुभाष राय के साथ भाजपा जिलाध्यक्ष डा. मिथिलेश त्रिपाठी मौजूद रहे। अकबरपुर सीट से बसपा उम्मीदवार चंद्रप्रकाश वर्मा ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर दोपहर करीब दो बजे दो सेट में नामांकन किया। पहले पर्चे में रंजीत कुमार गुप्त तथा दूसरे पर्चे में जुल्फेकान अब्बास प्रस्तावक हैं।

विधायक बनने की आस में 35 दावेदारों ने खरीदा पर्चा :

विधानसभा चुनाव में किस्मत आजमाने वालों की होड़ लगी है। दलीय प्रत्याशियों की घोषणा नहीं होने पर अपनी दावेदारी पुख्ता करने में कई दलगत दावेदार लगे हैं। निर्दलीय दावेदारों ने भी विधायक बनने की आस लगाकर पर्चा खरीदा है। नामांकन के दूसरे दिन कुल 21 दावेदारों ने पर्चा खरीदा है।

अकबरपुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के दो दावेदारों में एक ने एक सेट, दूसरे ने तीन सेट में पर्चा खरीदा है। राष्ट्रीय जनतांत्रिक भारत विकास पार्टी एवं राष्ट्रीय जनसहयोग पार्टी से एक-एक सेट में पर्चा खरीदा गया। इंडियन नेशनल कांग्रेस से तीन सेट, आम आदमी पार्टी से दो सेट एवं निर्दलीय ने एक सेट में पर्चा लिया है।

रिटर्निंग आफीसर एसडीएम पवन कुमार जायसवाल ने बताया कि यहां कुल 12 सेट पर्चा बिका है।कटेहरी विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के तीन दावेदारों के अलावा एक निर्दलीय ने एक-एक सेट पर्चा लिया। पीस पार्टी से एक दावेदार ने तीन सेट में पर्चा लिया है। यहां कुल सात पर्चे बिके।

टांडा विधानसभा क्षेत्र में कुल 11 पर्चे बिके। यहां भाजपा एवं सपा से एक-एक दावेदारों ने दो-दो सेट में पर्चा खरीदा। एआइएमआइएम के दो दावेदारों ने दो-दो सेट में पर्चा लिया तो कांग्रेस के एक दावेदार ने तीन सेट में पर्चा लिया है।

आलापुर विधानसभा क्षेत्र में आठ सेट पर्चा बिका है। यहां आम आदमी पार्टी और वीआइपी पार्टी के एक-एक दावेदार ने दो-दो सेट में पर्चा खरीदा तो कांग्रेस के एक दावेदार ने चार सेट में पर्चा खरीदा है।

जलालपुर विधानसभा क्षेत्र में कुल 14 दावेदारों ने पर्चा खरीदा है। इसमें बसपा से तीन सेट, बहुजन मुक्ति पार्टी से तीन सेट व तीन निर्दलीय ने एक-एक सेट में खरीदा है।नामांकन स्थल कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर और बाहर मजिस्ट्रेटों के साथ पुलिस का सख्त पहरा रहा। दोपहर तीन बजे तक अकबरपुर-टांडा मार्ग की तरफ से कलेक्ट्रेट मार्ग पर जाने की पाबंदी थी। इससे जिला अस्पताल, तहसील, कचहरी और विकास भवन आदि स्थानों पर जाने में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। एक मात्र कचहरी मार्ग पर जाम की समस्या बनी रही। इसमें एंबुलेंस समेत कार्यालय के कर्मी भी फंसे दिखे। जनता सरकारी कार्यालयों तक पहुंचने में चक्कर काटकर थक रही है। अधिकारियों को इनकी फिक्र नहीं रही।

तब पहली बार जिले में खुला था भाजपा का खाता, चुने गए थे दो विधायक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित